मनोविज्ञान के सिद्धांत और उनके प्रतिपादक (Principles of psychology and their exponents)

मनोविज्ञान के सिद्धांत और उनके प्रतिपादक (Principles of psychology and their exponents) 

  • मनोविज्ञान एक ऐसा विज्ञान है जो प्राणियों के व्यवहार एवं मानसिक तथा दैहिक प्रक्रियाओं का अध्ययन करता है।
  • शब्द मनोविज्ञान का पहला प्रयोग जर्मन दार्शनिक और रूडोल्फ गोकेल किसने किया था।
  • मनोविज्ञान शब्द अंग्रेजी के शब्द Psychology का हिंदी रूपांतरण है अंग्रेजी शब्द Psychology की उत्पत्ति लेटिन भाषा के शब्द Psychologia या से हुई है।
  • Psychologia  शब्द का प्रयोग सर्वप्रथम 1506 ईसवी में मारको मारोलिक ने सर्वप्रथम अपनी पुस्तक साइकोलॉजिया डे राशने एनिमा ह्यूमन में प्रयोग किया।
  • साइकोलॉजी शब्द का शाब्दिक अर्थ आत्मा का अध्ययन करना है।

बिजकोष की निरंतरता का सिद्धांत – बिजमेंन
प्रयोग – बिजमेंन ने कुछ चूहों को लिया और उनकी पूछे काट दी। बिजकोष पीढ़ी दर पीढ़ी चलता रहता है।
अर्जित गुणों के संक्रमण का सिद्धांत – लैमार्क
प्रयोग – लैमार्क के इस कथन की पुष्टि मेगडुगल और पावलॉक ने चूहों पर हैरिसन ने पतंगों पर परीक्षण करके की
मेंडल का सिद्धांत – ग्रेगर जॉन मेंडल
प्रयोग – मेंडल ने मटर के पौधों और काले और सफेद चूहों पर प्रयोग किया। आनुवंशिकी का जनक मेंडल को कहा जाता है।
गॉल्टन का जीव सांख्यिकी सिद्धांत – गॉल्टन
प्रयोग – बालक में गुणों का हस्तांतरण केवल माता-पिता से न होकर पूर्वजों से भी होता है।

डार्विन का सिद्धांत – डार्विन
प्रयोग – निरंतर बदलती परिस्थितियों के अनुसार परिवर्तित करने पर बल दिया
उद्दीपन अनुक्रिया का सिद्धांत Thorndike’s theory of Connectionism – थार्नडाइक
प्रयोग – थार्नडाइक का प्रयोग एक भूखी बिल्ली पर था। थार्नडाइक के सिद्धांत को संबंधवाद का सिद्धांत, आवृत्ति का सिद्धांत, प्रयत्न व भूल का सिद्धांत, चयन का सिद्धांत, ठोस अधिगम का सिद्धांत, प्रयास व त्रुटि का सिद्धांत, भी कहते हैं।
शास्त्रीय अनुबंधन का सिद्धांत Classical conditioning theory – इवान पी. पावलव
प्रयोग – पाँवलव का प्रयोग एक भूखी बिल्ली पर था। पावलव ने कुत्ते की पैरेंटिड ग्रंथि का ऑपरेशन करते हुए इस प्रयोग को सिद्ध किया इस कार्य के लिए पावलव को सन 1904 नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

क्रिया प्रसूत अनुबंधन का सिद्धांत – ब्युरहस फैडरिक स्किनर
प्रयोग – स्किनर का पहला प्रयोग चूहे पर व दूसरा प्रयोग कबूतर पर था
प्रबलन का सिद्धांत – क्लार्क एल हल
क्लार्क एल हल के सिद्धांत को सबलीकरण का सिद्धांत, चालक न्यूनता का सिद्धांत, यथार्थ अधिगम का सिद्धांत भी कहते हैं।
सूझ का सिद्धांत – कोहलर , कोफ्फ़ा , वर्दीमर
प्रयोग – कोहलर तथा वर्दीमर ने सुल्तान नामक चिंपांजी पर प्रयोग किए।
संज्ञानात्मक विकास का सिद्धांत या विकासात्मक मनोविज्ञान का सिद्धांत– जीन पियाजे
प्रयोग – जीन पियाजे ने बच्चों पर प्रयोग किए जीन पियाजे के संज्ञानात्मक विकास की चार अवस्थाएं बताई


• संरचनात्मक विकास का सिद्धांत – ब्रूनर
• अभिप्रेरणा के मूल प्रवृत्ति का सिद्धांत – विलियम मैकडुगल
• अभिप्रेरणा का मांग सिद्धांत – अब्राहम मैस्लो
• अभिप्रेरणा का प्रणोद न्यूनता का सिद्धांत – क्लार्क लियोनार्ड

• मनोविश्लेषणात्मक सिद्धांत – सिगमंड फ्रायड

• विरोधी प्रक्रिया का सिद्धांत – सोलोमन व कोरबिट
• लेविन का सिद्धांत – कुर्त लेविन
• उपलब्धि अभिप्रेरणा का सिद्धांत – डेविड सी मैकलेण्ड
• प्रोजेक्ट प्रणाली के जन्मदाता – किल पैट्रिक
• इकाई या बिनेटिका प्रणाली का सिद्धांत –  डॉ कार्लटन वशबर्न
• डाल्टन प्रणाली का सिद्धांत – मिस हेलन पार्क हर्स्ट
• डेक्रोली प्रणाली के जन्मदाता – ओबीड डेक्रोली
• कॉन्ट्रैक्ट प्रणाली के जन्मदाता – मिस हेलन पार्क हर्स्ट व डॉ कार्लटन वशबर्न
• अभिक्रमित अनुदेशन का सिद्धांत – 
• किंडर गार्डन प्रणाली के जन्मदाता – ऑगस्ट फ्रोवेल
• मोंटेसरी प्रणाली के जन्मदाता – डॉक्टर मारिया मोंटेसरी

• हयूरिस्ट्रिक प्रणाली के जन्मदाता – एन ई आर्मस्ट्रांग
• बेसिक शिक्षा प्रणाली के जनक – महात्मा गांधी
• मनोविश्लेषणात्मक सिद्धांत – सिगमंड फ्रायड
• व्यक्तित्व का मांग सिद्धांत  – एच ए मुर्रे
• शीलगुण का सिद्धांत – ऑलपोर्ट
• रोर्शा स्याही धब्बा परीक्षण I.B.T – हरमन रोर्शा
• प्रासंगिक अंतर्बोध परीक्षण T.A.T – एच ए मुर्रे
• वाक्य कहानी पूर्ति परीक्षण S.C.T – पाइन व टेण्डलर
• खेल व नाटक विधि के जनक – मोरेनो
• चित्र नैराश्य विधि के जनक – रोजेनविंग
• अभिव्यक्ति परीक्षण विधि – मैकाइवर
• अंतः दर्शन विधि के जनक – विलियम वुंट व टिचनर

• प्रश्नावली विधि के जनक – सुकरात व वुडवर्थ
• जीवन व्रत विधि के जनक – टाइडमैन
• साक्षात्कार विधि के जनक – जॉन जी डोर्ले
• बहिदर्शन विधि के जनक – जे बी वाटसन
• कर्म निर्धारण मापनी विधि के जनक – लिंकर्ट व थरस्टन
• समाजमिति विधि के जनक – जे.एल.मोरेनो
• मनोविश्लेषणात्मक विधि के जनक – सिगमंड फ्रायड
• बुद्धि का एक कारक सिद्धांत – अल्फ्रेड बिने
• बुद्धि का द्विकारक सिद्धांत – स्पियरमैन
• बुद्धि का त्रिकारक सिद्धांत – स्पियरमैन
• बहु कारक सिद्धांत – थार्नडाइक
• समूह कारक सिद्धांत – थर्स्टर्न
• बुद्धि का प्रतिदर्श सिद्धांत – थॉमसन
• बुद्धि का पदानुक्रम सिद्धांत – सिरिल वर्ट
• ब्लूम का बुद्धि सिद्धांत – ब्लूम
• बुद्धि का त्रिआयामी सिद्धांत – गिलफोर्ड

• बुद्धि का ‘क’ बुद्धि का ‘ख’ सिद्धांत – हैब
• बुद्धि का त्रिचापीय सिद्धांत – रॉबर्ट स्टर्नवर्ग
• संज्ञानात्मक विकास का सिद्धांत – जीन पियाजे
• तरल ठोस / धारा प्रवाह सिद्धांत – कैटल
• बहु बुद्धि सिद्धांत – गार्डनर
• स्टैनफोर्ड बिने परीक्षण – अल्फ्रेड बिने
• रेविन प्रोग्रेसिव मैट्रिक्स बुद्धि परीक्षण – रेबिन
• जालौट बुद्धि परीक्षण – जालौट
• अस्तित्ववाद का सिद्धांत – विलियम वुंट
• अंतर्दृष्टि बाद का सिद्धांत – वर्दीमर
• साहचर्यवाद का सिद्धांत – रिबॉट
• मनोविश्लेषणात्मक सिद्धांत – सिगमंड फ्रायड
• अधिगम का क्षेत्र वादी सिद्धांत – कर्ट लेबिल
• स्वप्न विश्लेषण विधि के जनक – सिगमंड फ्रायड
• मुक्त साहचर्य परीक्षण विधि के जनक – सिगमंड फ्रायड और जुंग
• निष्पादन परीक्षण विधि के जनक – हार्टशोर्न

• समाज मित्तीय विधि के जनक – जे एल मोरेनो
• वहीदर्शन विधि के जनक – वाटसन
• रेटिंग स्केल विधि के जनक – लिकर्ट व थर्स्टर्न
• साक्षात्कार विधि के जनक – जॉन जी डारले

• जीवन व्रत विधि के जनक – टाइड मैन
• प्रश्नावली विधि के जनक – प्राचीन (सुकरात) आधुनिक (वुडवर्थ)
• अभिव्यक्ति चित्र परीक्षण विधि – मैकाइवर
• चित्र नैराश्य विधि – रोजेन विंग
• खेल या नाटक विधि – मोरेनो
• शब्द साहचर्य परीक्षण विधि – गॉल्टन
• बादल विधि का संबंध है – व्यक्तित्व से

• मोजेक परीक्षण का संबंध – व्यक्तित्व से
• वाक्य कहानी पूर्ति परीक्षण – पाइन व टेंडलर
• मनोसामाजिक विकास का सिद्धांत – एरिक्सन
• आत्मसिद्धि सिद्धांत के जनक – अब्राहम मैस्लो
• व्यक्तित्व का self-concept सिद्धांत – कार्ल रोजर
• सामाजिक अधिगम का सिद्धांत – बंडूरा वॉल्टन

 • प्रत्याशा पुनर्बलन का सिद्धांत – रोटर
• समीपता का सिद्धांत – एडविन गुथरी
• अन्वेषण का सिद्धांत – जेरोम एस.ब्रूनर
• शाब्दिक अधिगम का सिद्धांत – आसुबेल

Read More










Spread the love

Leave a Comment