Bal Vikas Important Question , बाल विकास एवं शिक्षा शास्त्र मोस्ट प्रश्न

दोस्तो आज की हमारी इस पोस्ट में हम आपको बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र व शिक्षा मनोविज्ञान ( Child Development and Pedagogy and Educational Psychology ) से संबंधित  Notes  उप्लब्ध कराऐंगे जो कि आपको  आने बाले सभी तरह के Teaching Exams जैसे कि Vyapam Samvida Teacher , CTET , UPTET , HTET, REET, MPTET व अन्य Exams जिनमें कि Child Development and Pedagogy and Educational Psychology से संबंधित प्रश्न पूंछे जाने हैं उन सभी के लिये बहुत महत्वपूर्ण होंगी ! 




EXAM से संबंधित प्रत्येक जानकारी के लिए आप हमे फॉलो करे 
  • बाल मनोविज्ञान किसका अध्ययन करता है – बालक की मन व स्वभाव का
  • मानव विकास का अध्ययन मनोविज्ञान की किस शाखा के अंतर्गत किया जाता है उसे क्या कहते हैं – बाल मनोविज्ञान
  • बाल मनोविज्ञान के द्वारा जब अध्ययन का क्षेत्र गर्भावस्था से किशोरावस्था व परिपक्व अवस्था तक होने लगा तो आज बाल मनोविज्ञान को किस नाम से जाना जाता है। – बाल विकास
  • विश्व में पहली बार अंतर्राष्ट्रीय बाल दिवस कब मनाया गया –  सन 1979
  • स्कूल ऑफ इन्फैंसी की स्थापना किस मनोवैज्ञानिक द्वारा की गई थी – जोहन अमोस कमीनियस
  • बालक के विकास का प्रथम बार वैज्ञानिक विवरण 18 वीं शताब्दी में किसने प्रस्तुत किया था – पेस्टोलॉजी
  • अमेरिका में बाल अध्ययन आंदोलन की शुरुआत कब और किसने की थी – स्टैनली हॉल 1893
  • भारत में बाल विकास के अध्ययन की शुरुआत कहां हुई – कोलकाता विश्वविद्यालय 1930
  • अभिवृद्धि और विकास की प्रक्रिया किस समय से प्रारंभ हो जाती है। – बालक के गर्भाधान से
  • मानव विकास का प्रारंभिक काल किसे माना गया है – बाल विकास
  • मानव विकास के सभी पहलुओं का अध्ययन मानव विज्ञान की किस शाखा के अंतर्गत होता है – विकासात्मक मनोविज्ञान में
  • शारीरिक मानसिक संवेगात्मक सामाजिक परिवर्तनों की श्रंखला किसे दर्शाती है – विकास को
  • विकास की प्रक्रिया किस प्रकार होती है – वर्तुलाकार
  • बालक के भावी जीवन की आधारशिला का काल है – शिशु अवस्था
  • गर्भ में संतान सर्वाधिक प्रभावित होती है – मां के पोषण से
  • गर्भाधान काल की अवस्था होती है – डिंब अवस्था , बिजकरन अवस्था , भ्रूणावस्था
  • बालक में संस्कारों का विकास प्रारंभ कहां से होता है – परिवार से

  • बालक का विकास होता है  – सिर से पैर की ओर
  • बालक के समाजीकरण की अवस्था होती है – शैशवावस्था
  • संदीप शब्द का शाब्दिक अर्थ है  – उत्तेजना या भागों में उथल-पुथल
  • आत्म गौरव की भावना सर्वाधिक पाई जाती है – 13 से 19 वर्ष
  • बालक का शारीरिक मानसिक सामाजिक और संवेगात्मक विकास किस अवस्था में पूर्णता को प्राप्त होता है – किशोरावस्था
  • किस आयु के बालक में समय, दिन ,दिनांक एवं क्षेत्रफल संबंधित अबोध का विकास हो जाता है – 9 वर्ष
  • आयु में बालक की मानसिक योग्यता का लगभग को विकास हो जाता है वह है  – 14 वर्ष की आयु
  • निम्नलिखित अवस्था में प्रायः बालकों का आकर्षण समलिंगी के प्रति होता है –  बाल्यावस्था में
  • लड़कियों में बाह परिवर्तन किस अवस्था में होने लगते हैं – किशोरावस्था
  • बालक के सामाजिक विकास में सबसे महत्वपूर्ण कारक है – वातावरण
  • विकासात्मक बाल मनोविज्ञान का जनक किसे माना जाता है – जीन पियाजे
  • भाषा विकास के विभिन्न अंग कौन से हैं – अक्षर ज्ञान, सुनकर भाषा को समझना, ध्वनि उत्पन्न करके भाषा बोलना
  • विद्यालय में शिक्षक बालकों से समायोजन के लिए कार्य करता है – सहानुभूति पूर्ण व्यवहार
  • को समायोजित व्यक्तित्व का लक्षण है – मन व बुद्धि अस्थिर
  • व्यक्ति की मानसिक तनाव को कम करने की प्रत्यक्ष विधि है –  बाधा को दूर करना
  • निष्पादन परीक्षण विधि के प्रवर्तक कौन है –  हार्डसोरन व मेंय
  • सर्जनशीलता के पोषण हेतु , एक अध्यापक को अपने विद्यार्थियों को रखना चाहिये  –कार्य केंद्रित एवं लक्ष्य केंद्रित 
  • एक बालक अनुपयोगियो प्लास्टिक थेलियो से कलात्मक वस्तु बनाता हे यह दर्शाता हे – सृजनशीलता 
  • बच्चे की जिज्ञासा शांत की जनि चाहिए – तत्काल जब बच्चे द्वारा जिज्ञासा की गई हे 
  • विशिष्ट बालक के अंतर्गत कोण सा बालक आता हे  – सभी बालक अपने आप में विशिष्ट होते है 
  • अध्ध्य्यन का उच्चतम स्तर कौन सा है – अनुकूलित प्रतिवर्त अधिगम 
  • कोहलर ने अधिगम सम्बन्धित पयोग किये हे- चिम्पांजी पर 
  • समग्रता के सिद्धांत के प्रवर्तक है – वर्दीमर और उनके साथी
  • जिन पियाजे के अनुसार संक्रियातक अवस्था बालक की किस आयु अवधि तक मानी जाती हे – 11 से 15  वर्ष 
  • डिस्लेक्सिया मुख्य रूप से किस बिमारी से सम्बन्धित है – पढ़ने 
  • ततपरता का नियम किसने दिया – थार्नडाइक 
  • सिखने का क्लासिकल कंडीशनिंग सिद्धांत के प्रवर्त्तक है – पावलाक 
  • सुल्तान नामक चम्पाजी पर प्रयोग करने बाले वैज्ञानिक का नाम बताओ – कोहलर ने 
  • सीखना विकास की एक प्रक्रिया है , यह किसने कहा – वुडवर्थ 
  • व्यवहार के कारण व्यवहार में आया परिवर्तन अधिगम है यह किसने कहा – गिलफ़ोर्ड 


दोस्तों आपको हमारे द्वारा दिये गए इस प्रश्नो की श्रखला को पढ़कर आपको केसा लगा हमे कमेंट कर  बताये।  
Spread the love

Leave a Comment