How to become a [Bank PO] Top 9 Tips – बैंक में PO कैसे बने

 

 

How to become a Bank PO || बैंक पीओ कैसे बने ?
How To Become A Bank PO

 

How to become a Bank PO Top 9 Tips In Hindi

नमस्कार दोस्तों आज के इस पोस्ट में हम आपको बताएंगे कि बैंक में PO कैसे बने। भारत के युवाओं में सबसे ज्यादा क्रेज बैंक सेक्टर में नोकरी करने का होता है। यदि आप भी बैंक मैं नौकरी करना चाहते हैं तो आज हम आपको बताएंगे कि बैंक में पीओ कैसे बने। PO का फुलफोर्म Probationary Officer होता है,इसे हिंदी में प्रमाणीकृत अधिकारी कहते हैं।
 
जैसे-जैसे जनसंख्या बढ़ रही है वैसे ही बैंकों का क्षेत्र बढ़ता जा रहा है और बैंकों के बढ़ने से बैंकों को कर्मचारियों की आवश्यकता अधिक पढ़ रही है। बैंक कर्मचारियों को रखने के लिए प्रतिवर्ष वैकेंसी निकलती है। बैंकों में वैसे तो बहुत सारे पद होते हैं लेकिन आज हम बात करने वाले हैं। Bank PO के बारे में यह युवाओ के लिये सबसे शानदार और प्रतिष्टित पोस्ट है। यह सेक्टर इंडिया का सबसे ज्यादा Devlopment होने वाला सेक्टर है।
 
तो अगर आप भी बैंक की तैयारी कर रहे हैं तो आपको यह पोस्ट पूरा पढ़ना चाहिए इस पोस्ट में हमने बैंक पीओ कैसे बने के बारे में विस्तार से बताया है.


बैंक पीओ का वर्क क्या होता है ?

 
बैंक पीओ का फुल फॉर्म Probationary Officer होता है, एक बैंक पीओ को पहले किसी भी तरह का वर्क दिया जा सकता है जैसे clerk या Bank assistant की जिम्मेदारी दी जाती है जिससे बैंक के बारे में आपको अच्छी जानकारी प्राप्त हो सके। इसके साथ ही आपको Finance marketing और Investment के व्यवहारिक ज्ञान की जानकारी दी जाती है। इसके साथ ही आपको Account का वर्क भी दिया जाता है। यदि यह काम आप सही तरीके से कर लेते हैं तो आपको किसी भी बैंक में assistant के तौर पर नियुक्त कर दिया जाता है।
 

बैंक PO बनने के लिये क्या करे। 

बैंक में पीओ बनने के लिए आपको सबसे पहले IBPS का फॉर्म अप्लाई करना होगा। IBPS फुल फॉर्म होता है. The Institute of Banking Personnel Selection IBPS 1 साल में 4 एग्जाम कंडक्ट करवाता है। Bank Po,RRB Officers,Bank Clark,RRB Assistant बैंक में पीओ बनने के लिए आपके पास दो ऑप्शन होते हैं। IBPS और SBI दोनों की वैकेंसी अलग अलग तरीके से निकलती है,IBPS Bank PO  का Exam साल में एक बार कराता है। आपको इसके द्वारा फॉर्म अप्लाई करना होगा।

बैंक पीओ बनने के लिए क्या  Qualification                   

 
बैंक पीओ बनने के लिए Graduation  करना कंपलसरी है। आप की डिग्री भारत सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त होना आवश्यक है आपका Graduation Science, commerce या Art जैसे Subject से होना चाहिए यदि आप इन Subject से Graduation है तो आप फॉर्म भरने के लिए इलेजिबल है। यदि आप बैंक में पीओ  हैं तो आपको कंप्यूटर का पूरा नॉलेज होना आवश्यक है क्योंकि आजकल बैंकों में सारा कार्य कंप्यूटरीकृत हो चुका।
 

बैंक पीओ बनने के लिए एज लिमिट क्या होती है।

 
बैंक में पीओ बनने के लिए Minimum एज लिमिट 20 साल है और Maximum एज लिमिट 30 साल है। इसके अलावा रिजर्व कैटेगरी के लिए छूट का प्रावधान है OBC को 3 साल की छूट दी जाती है तो वही SC/ST को 5 साल की छूट दी जाती है PWD को 10 साल की छूट दी जाती है और रिटायर्ड को 5 साल की छूट दी जाती है।
 
फॉर्म भरने के लिए 10th or 12th कितना परसेंटेज चाहिए
बैंक पीओ मैं फॉर्म भरने के लिए आपका ग्रेजुएशन होना बहुत जरूरी है, यहां आपके 10th और 12th के नंबर मैटर नहीं करते है।  बैंक पीओ के एग्जाम 3 स्टेज में होते हैं। और तीनों का सिलेबर्स अलग अलग होता है।
 
बैंक पीओ का फॉर्म कब भर सकते हैं
दोस्तों August से October महीने में IBPS बैंक पीओ की वैकेंसी निकालती है, Bank PO का फार्म भरने के लिए लगभग 1 महीने का समय मिलता है।
Bank PO Exam के कितने स्टेज होते हैं
 
बैंक पीओ Exam के तीन स्टेज होते हैं।
  • Prelims Exam
  • Mains Exam
  • Interview
Prelims Exam मैं आपको अच्छे नंबर लाने होते हैं तभी आप अपना Mains में बैठ सकते हैं ध्यान रखिए यह दोनों Exam ऑनलाइन होते हैं. यदि आप Mains में पास हो जाते हैं तो आगे नंबर आता है इंटरव्यू का इंटरव्यू में क्वालीफाई होना जरूरी होता है तभी आप बैंक में पीओ बन सकते हैं.
 

विश्व के प्रमुख संगठन और उनके मुख्यालय – Click Hear

Bank PO का Syllabus क्या है
किसी भी एग्जाम की तैयारी करने से पहले उसका Syllabus आपको पता होना चाहिये की पेपर में क्या और कहां से आने वाला है
बैंक PO का Exam 3 स्टेज में होता है।
 
Prelims Exam Syllabus – इस पेपर में 100 Question होते हैं और आपके पास 60 मिनट का टाइम होता है। 
1.English – English से 30 क्वेश्चन 30 मार्क्स से पूछे जाते हैं और टाइम 20 मिनट का होता है।
2. Mathematics – मैथमेटिक्स से 35 क्वेश्चन 35 मार्क्स के पूछे जाते हैं और टाइम मिलता है 20 मिनट
3. Reasoning – रेशमी से 35 क्वेश्चन 35 मार्च के होते हैं और टाइम मिलता है 20 मिनट।
इस एग्जाम को पास करने के बाद आपको मेंस की तैयारी करनी होती है।

Mains Exam Syllabus –

इसमें 4 सब्जेक्ट से क्वेश्चन पूछे जाते है कुल 155 question पूछे जाते हैं। जो 200 मार्क्स के होते हैं। इस Exam में 3 घण्टे का टाइम मिलता है।

1. Reasoning & Computer  – इस सब्जेक्ट से 45 question पूछे जाते हैं। जो 60 मार्क्स के होते हैं। और टाइम 60 मिनट होता हैं।

2. General / Economy / Banking / Awareness – इस सब्जेक्ट से 40 Question पूछे जाते हैं। इन 40 प्रश्नों को हल करने के लिये आपको 35 मिनट का समय मिलता है।
3. English Language – इस सब्जेक्ट से 35  Question पूछे जाते हैं, इन प्रश्नों को हल करने के लिये समय मिलता है 40 मिनट और 35 प्रश्नों के लिये 40 मार्क्स दिये जाते हैं।
4. Data Analysis & Interpretation – इस Subject से 35 Question पूछे जाते हैं। जो 60 मार्क्स के होते हैं। और आपको टाइम मिलता है 45 मिनट
 
Note : यह दोनों Exam आप हिंदी या अंग्रेजी भाषा मे दे सकते हो।
 
Bank PO की सैलरी कितनी होती है।
 
सभी बैंकों में बैंक PO की सैलरी अलग-अलग होती है। लेकिन PO की Basic  सैलरी 22,700 प्रतिमाह होती है। और कई सारे भत्ते भी आपको मिलते हैं। सभी को एड करके 40 से 50,000 प्रतिमाह सैलरी एक बैंक PO को मिलती है।
 

IAS कैसे बने सम्पूर्ण जानकारी – Read More

 

Spread the love

4 thoughts on “How to become a [Bank PO] Top 9 Tips – बैंक में PO कैसे बने”

Leave a Comment