Indian History Top 100 MCQ In Hindi

 

नमस्कार दोस्तो आज की इस पोस्ट में हम आपके लिये लाये है। Indian History Top 100 MCQ In Hindi इसमें इतिहास के बहुत ही महत्वपूर्ण प्रश्नों को शामिल किया गया है। जो प्रतियोगी परीक्षाओं के लिये बहुत ही उपयोगी है।

Indian History Top 100 MCQ In Hindi
Indian History Top 100 MCQ In Hindi

इतिहास से सम्बंधित प्रश्न भारत में होने वाली सभी परीक्षाओ में पूछा जाते है। यदि आप SSC, BANK, RAILWAY, TEACHER, या फिर भारत में होने वाली किसी भी परीक्षा की तैयारी कर रहे है।  तो आपको इस प्रश्नो का अध्यन अवश्य करना चाहिए।

Indian History Top 100 MCQ In Hindi

  • किसने सबसे ज्यादा स्वर्ण मुद्राएं चलाई थी – कुषाण शासकों ने
  • किस संग्रहालय में कुषाण कालीन मूर्तियों का संग्रह अधिक मात्रा में है – मथुरा संग्रहालय
  • किस वंश के शासकों ने ब्राह्मणों एवं बौद्ध भिक्षुओं को कर मुक्त भूमि या गांव देने की प्रथा आरंभ की – सातवाहन
  • भारतीय रंगमंच में यवनिका (पर्दा प्रथा) का शुभारंभ किसने किया – यूनानियो ने
  • निम्नलिखित में से कनिष्क के समकालीन कौन थे – नागार्जुन अश्वघोष वसुमित्र
  • कनिष्क के शासन काल की सर्वाधिक महत्वपूर्ण घटना कौन सी थी – चतुर्थ बौद्ध संगीति
  • प्राचीन काल के भारत पर आक्रमण के संबंध में कौन सा सही कालानुक्रम है – यूनानी शक कुषाण
  • सर्वप्रथम भारत में विश्व युद्ध संस्कृत भाषा में लंबा अभिलेख किस राजा द्वारा जारी किया गया – शक राजा रुद्रदामन द्वारा
  • गांधार कला किन दो कलाओं का संयोजन है – हिंदू यूनान
  • विक्रम संवत कब से प्रारंभ हुआ – 58 ई.पूर्व
  • भारतीय कला का वह कौन सा स्कूल है जो greco-roman बौद्ध आर्ट के नाम से भी जाना जाता है – गंधार
  • किसने अपने जीवन के उत्तरार्ध में अपने पुत्र के हाथों में राजसत्ता सौंपकर बौद्ध भिक्षु हो गया – मिनांडर
  • चरक और नागार्जुन किसके दरबार की शोभा थे – कनिष्क
  • शक संवत का प्रारंभ किस सम्राट के शासनकाल में 78 ईसवी से हुआ था – कनिष्क
  • कुषाणों का संबंध किससे था – चीन के यूची जनजाति से
  • कौन कनिष्क के बौद्ध होने के लिए उत्तरदाई था – अश्वघोष
  • किसने सोने के सर्वाधिक शुद्ध सिक्के जारी किए – कुषाणों ने
  • सात वाहनों के समय में मुद्रा सर्वाधिक किस धातु के बने – सीसा
  • निम्नलिखित में से कौन कनिष्क के राजवैद्य थे – चरक
  • सातवाहनों ने पहले स्थानीय अधिकारियों के रूप में काम किया था – मौर्य के अधीन
  • वह महानतम कुषाण नेता कौन था जो बौद्ध बन गया था – कनिष्क
  • कुषाण काल के दौरान मूर्तिकला की गांधार शैली निम्नलिखित में से किसका मिश्रण है – भारत ग्रीक शैली
  • प्राचीन काल में कलिंग का महान शासक कौन था – खारवेल
  • प्राचीन भारत में निम्न में से किस एक ने नियमित रूप से सोने के सिक्के चलाएं – कुषाण
  • मौर्य साम्राज्य के अंत के पश्चात कई आक्रमणों की श्रंखला रही भारत पर सबसे पहले आक्रमण निम्नलिखित में से किसने किया – ग्रीक
  • शुंग वंश के बाद किस वंश ने भारत पर राज किया – कण्व
  • किस चीनी जनरल ने कनिष्क को हराया था – पेन चाओ
  • उत्तरी तथा उत्तरी पश्चिमी भारत में सर्वाधिक संख्या में साविकी सिक्कों को जारी किया था – कुषाणों ने
  • कौन सा अभिलेख कलिंग नरेश खारवेल से संबंधित है – हाथीगुम्फा अभिलेख
  • के साथ वाहन नरेश ने गाथा सप्तशती नामक महत्वपूर्ण कृति की रचना की – हाल
  • सातवाहन शासकों की राजकीय भाषा थी – प्राकृत
  • कण्व वंश का संस्थापक कौन था – वसुदेव
  • सातवाहन साम्राज्य के संस्थापक कौन थे – सिमुक
  • अंतिम मौर्य सम्राट बृहद्रथ की हत्या कर किसने शुंग वंश की स्थापना 185 ईसवी पूर्व में की – पुष्यमित्र
  • पुष्यमित्र शुंग मौर्य सम्राट बृहद्रथ की राजकीय सेना में किस पद पर आसीन था – सेनापति
  • जो कला शैली भारतीय और गीक यूनानी शैली का सम्मिश्रण है उसे कहते हैं – गांधार कला
  • कनिष्क बौद्ध धर्म की किस शाखा का अनुयाई था जिसका प्रसार उसने मध्य एशिया व सुदूर पूर्व में किया – महायान
  • भारत में प्रथम बार सैनिक शासन व्यवहार में लाया गया – ग्रीकों द्वारा
  • ईसा पूर्व दूसरी सदी के प्रारंभ में उत्तरी अफगानिस्तान में स्थापित भारत यूनानी राज्य था – बैक्टीरिया
  • किस कुषाण शासक ने सर्वाधिक स्वर्ण मुद्राएं जारी की – विम काडफिसस
  • किस वंश के शासकों ने क्षत्रप प्रणाली का प्रयोग किया – हिंदू युवनो ने
  • पाणिनी द्वारा रचित पुस्तक का नाम क्या है – अष्टाध्याई
  • रोमन साम्राज्य के अनुसरण पर किस वंश के शासकों ने केसर की उपाधि ग्रहण की – कुषाण
  • निम्नलिखित में से किसका निर्माण शुंग काल में हुआ – भर भरहुत का स्तूप
  • सातवाहन नरेश हाल के समकालीन गुनाढ़य ने किस प्राकृतिक ग्रंथ की रचना की – व्रहतकथा
  • चार धातुओं सोना चांदी तांबा एवं शीशा के सम्मिश्रण से बनने वाले सिक्के को क्या कहा जाता था – कार्षापण
  • सर्वप्रथम रोम के साथ किन लोगों का व्यापार प्रारंभ हुआ – तमिलों एवं चेरो का
  • मौर्य तत्कालीन प्रमुख बंदरगाहों में कौन असत्य है – कोचीन
  • कुषाण काल में सबसे अधिक विकास किस क्षेत्र में हुआ था – वास्तु कला
  • सातवाहनों ने आरंभिक दिनों में अपना शासन कहां शुरू किया – प्रतिष्ठान
  • सातवाहन राज्य की राजधानी कहां थी – प्रतिष्ठान
  • मौर्य के बाद दक्षिण भारत में सबसे प्रभावशाली राज्य था – सातवाहन
  • बुद्ध की खड़ी प्रतिमा किस काल में बनाई गई थी – कुषाण काल
  • प्राचीनतम तमिल देवता मरूगन किस वैदिक देवता के सदस्य हैं – कार्तिकेय
  • गाय या अन्य वस्तुओं के लिए लड़ते-लड़ते मरने वाले वीरों के सम्मान में खड़े किए जाने वाले वीर प्रस्तर को कहा जाता था – वीरकल
  • पिलनी के ग्रंथ एवं अज्ञातनामा लेखक के ग्रंथ पेरिप्लस के अनुसार मोती के सीप पांडेय देश के किस क्षेत्र से निकलते थे – कोल्वे
  • कावेरिपट्टनम की स्थापना किसने की – करिकाल
  • तमिल काव्य का ओडीसी कहा जाता है – मणिमेकलई
  • स्ट्रेवो के अनुसार संगम युग के किस वंश के शासक ने रोमन सम्राट आगस्टस के दरबार में 20 ईसवी पूर्व के लगभग अपना एक दूत भेजा – पांडय नरेश ने
  • ब्राह्मणों के बाद संगम समाज में किस वर्ग का स्थान था – वेल्लात
  • कपाट पुरम या अलवै में संपन्न द्वितीय संगम का एकमात्र शेष ग्रंथ कौन सा है – तोल्लकपपियं
  • किसके संबंध में यह कहावत है जितनी जमीन में एक हाथी ले सकता है उतनी जमीन 7 आदमियों का पेट भर सकती है – कावेरी डेल्टा
  • किसने उल्लेख किया है कि नंदो ने अपना कोष गंगा की धारा में छिपा रखा था – ममूलनार
  • किस संगम युगीन राज्य के संरक्षण में तीन संगम ओं का आयोजन किया गया – पांडय
  • धार्मिक कविताओं का संकलन कोरल किस भाषा में है – तमिल भाषा में
  • निम्नलिखित राजवंशों में किसका उल्लेख संगम साहित्य में नहीं हुआ है – कदंब
  • निम्न में कौन संगम युगीन व्याकरण रचना सर्वाधिक महत्वपूर्ण रचना मानी गई है – तोल्लकपपियं
  • तमिल भाषा के शिल्पादीकारम और मणिमेखलई नामक गौरव ग्रंथ किस से संबंधित है – हिंदू धर्म
  • तमिल का गौरव ग्रंथ जीवन चिंतामणि किससे संबंधित है – जैन धर्म
  • लाल चेरा के नाम से प्रसिद्ध वह चेर शासक कौन था जिसने पत्तिनी के मंदिर का निर्माण कराया था – सेनगुट्टुवन
  • संगम युग में उरेयुर किस लिए विख्यात था – कपास के व्यापार का महत्वपूर्ण केंद्र
  • तिरुवल्लुवर की रचना कुरल या मुप्पाल को कहा जाता है – तमिल भूमिका बाइबल

आपको Indian History Top 100 MCQ In Hindi पोस्ट कैसी लगी हमे कमेंट बॉक्स में जरूर बताये।  आपको अगला आर्टिकल इस टॉपिक पर चाहिए हमें बताइये।

 

 

Spread the love

Leave a Comment